अच्छा Safety Officer कैसे बने?

Safety Engineering  के क्षेत्र में काम करने वाले student  की ख्वाहिश होती है की वह अच्छा से अच्छा Safety Officer बने वो भी  जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी। यह इतना आसान नहीं है पर इतना मुश्किल भी नहीं की अपनी इच्छा को पूरा न किया जा सके.अगर सच में आप चाहते हैं कि safety  officer बने और जिस कंपनी में काम कर रहे उसे अपना best  तो यह आप के लिए मुश्किल नहीं होगा। यहाँ मैं आप से कुछ बिंदुओं के बारे में चर्चा करने वाला हूँ जिसके follow  करके आप अच्छा से अच्छा safety  officer  बन सकते हैं.

तो आइये उन बिंदुओं के बारे में जानते हैं जिसे पूरा करके एक अच्छा safety officer  बन सकें-

Education Qualification-

अगर आप जितना जल्दी हो सके safety officer  के पद पर खुद को देखना चाहते हैं तो आप की एजुकेशन डिग्री का इसमें बहुत बड़ा role होगा। अगर आप ने B. Tech, 2 या 3 Years का diploma कर लिया है और इसके साथ किसी भी संस्थान से आप ने safety से सम्बंधित degree ले रखा है तो आप जल्दी ही इस post के लिए eligible हो जायेगें।इसके आलावा आप के पास 3 years degree जैसे  की B. Sc Fire and Safety कर रखा है तो आप जल्दी ही पद पर खुद को देखेंगें। अगर आप के पास ADIS  है या इसके अलावा NEBOSH IGC है तो भी आप इस पोस्ट पर जल्दी ही विराजमान हो सकते हैं.

Experience-

अगर आप के पास ज्यादा डिग्री न होने के बाद भी experience है तो आप इस safety officer पद के लिए  eligible हो सकते हैं.क्योकि आप ने इस क्षेत्र में महानता हासिल कर ली होगी। अँग्रेजी में एक कहावत है “Practice make a man Perfect”. Experience के अनुसार देखा जाए तो यह कहावत उन सभी व्यक्तियों पर चरितार्थ होता है जिसने अपने field  में ज्यादा से ज्याद एक्सपीरियंस ले रखा है.

Knowledge-(जानकारी)

कई बार ऐसे होता है कि जब किसी व्यक्ति को safety officer के पद के लिए hire करते हैं तो उसका profile देखकर उसे hire  करने के लिए लालायित हो उठते हैं तो क़ि इस व्यक्ति के पास बहुत ज्यादा experience है और उसे hire करने के पश्चात् पता चलता है की उसका experience हाथी के दाँत की तरह है जैसे “दिखाने के और खाने के और”.

ऐसे में safety officer  के पद पर hire करने से पहले उस व्यक्ति का knowledge test कर लें जब आप को लगता है की व्यक्ति उस पोस्ट के लिए eligible कर रहा है तभी hire  करें। इसलिए ज़रूरी है की अगर आप अपने profile को smart बना रहे हैं तो अपने profile के according knowledge रखे अन्यथा आने वाले समय में company आप को appoint करने के पश्चात् knowledge के आभाव में आप को बाहर का रास्ता दिखा सकता है.

Skill-

यह बातें केवल safety से सम्बंधित field  पर लागु नहीं होता हैं आप चाहे जिस field में जा रहे है आप के पास skill  का होना बहुत ज़रूरी है और skill कहाँ से आता है आप के hardworking से, knowledge से, और skill develop करने से. अगर आप खुद को जितना जल्दी company  के top management  में खुद को देखना चाहते हैं तो अपने अंदर skill को develop करें जो उस proper post  के लिए ज़रूरी है.इसलिए जिस पोस्ट पर खुद को देखना चाहते हैं उसके लिए जिस skill की ज़रूरत है उसको develop करें।

Introvert and Extrovert-(अंतर्मुखी और बहिर्मुखी)

Company के अंदर बहुत से ऐसे post होते हैं जिसके लिए अंतर्मुखी अगर आप है तो काम चल सकता है यह  केवल आप के जानकारी के ऊपर निर्भर करता है लेकिन आप safety officer के लिए हार्ड वर्क कर रहे हैं तो को introvert and extrovert होना पड़ेगा अर्थात आप को अंतर्मुखी और बहुमुखी होना पड़ेगा। क्योंकि अगर आप safety officer बने हैं तो आप को safety meeting, tool box talk और motivational story आदि सुनाना ही होगा जिसके कारण आप को public में बोलने की आदत डालनी पड़ेगी जिससे आप उपर्युक्त बिंदुओं को आसानी से clear कर सकें।

इसे भी पढ़ें-

Safety Motivational Speech in Hindi

Fire Hazards and Precaution

Honestly Work-

किसी भी क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए यह बिंदु महत्वपूर्ण होता है.केवल safety department पर लागू नहीं होता है बल्कि सभी तरह के कार्य में इसका सबसे आवश्यक बिंदु होता है.Safety Department में इसका importance इसलिए बढ़ जाता है कि तनिक भी लापरवाही होने की स्थिति में खतरे की सम्भावना बन जाती है इसलिए ज़रूरी है आप का जो designation है उसके according काम करें और उसी दिशा में ईमानदारी से काम करें।

Follow Safety Precaution-

Safety के field में काम करने वाले employee के ऊपर यह बात लागु होती है कि safety के प्रत्येक नियम का खुद अनुसरण करें। क्योंकि उसका काम ही होता है कि company  के अंदर जितने भी employee  काम कर रहे हैं उन्हें सुरक्षित रखना ऐसे में safety employee खुद ही safety के rules  को तोड़ता और दूसरे से उम्मीद करना है कि वह company  के safety policy  को follow  करे तो यह कहाँ तक संभव हो पायेगा।

Safety Department को चाहिए कि company के अंदर जितनी भी safety policy होती है उसका अनुसरण करें तब कहीं जाकर जिस क्षेत्र में काम कर रहा है वह area सुरक्षित रहेगा।

गाँधी जी ने एक बात कहीं थी वह बात safety department में काम करने वाले सभी employee  पर काफी सटीक बैठता है. बात कुछ इस तरह है “जो बदलाव आप दुनिया में देखना चाहते हैं वह सर्वप्रथम खुद पर के अंदर लाये “

यह बात safety  department पर खूब सटीक बैठता है क्योंकि अगर आप company के पुरे employee  के अंदर safety precaution में सभी employee को देखना चाहते हैं तो सबसे पहले आप उस सभी क्षेत्रों में जाने से पहले वहाँ जो hazards  हैं उससे सम्बंधित safety precaution को follow करते हुए वहां पहुंचे।

conclusion-

इस पुरे post से यही निर्णय निकल के आता है कि अगर आप को किसी भी क्षेत्र में  आगे बढ़ना है तो मेहनत करना ज़रूरी होता है.बिना hard work के आप उस क्षेत्र में आगे नहीं बढ़ सकते जहाँ खुद को दो-तीन सालों में देखना चाहते हैं.इसलिए है की आप जिस जहाँ भी काम कर रहे हैं वहाँ इमानदारी से hard  work करें दुनिया की कोई ताकत आप को आगे बढ़ने से नहीं रक सकती है। क्योकि कोई भी कंपनी यही चाहती है की उसे hard working और honest employee मिले।  

अगर यह पोस्ट आप को अच्छा लगे तो इसे व्हाट्सएप्प, फेसबुक और टविटर पर शेयर करना न भूलें।

इसे भी जाने-

Respiratory Protection in Hindi

H2S Gas के Properties, Effects,Hazards और Precautions.

ADIS(Advance Diploma in Industrial Safety) Scope in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *