About Sprinklers II स्प्रिंकलर्स के बारे में

    0
    7

                                      Fire Sprinkler

    Sprinklers आग बुझाने का एक automatic sensitive  fire equipment होता है जो एक जगह fix कर दिया जाता है.इसकी खास बात होती है की यह यह खुद fire को detect करता है और अपने आस-पास लगे आग को भाँप लेता है और तुरंत fire fighting के लिए सक्रिय हो जाता है.इसका प्रयोग इसलिए किया जाता है कि आग जब अपने initial stage पर रहे तो उस पर आसानी से काबू पाया जा सके.

    Body Part Name of Sprinklers-

    Sprinkler के तीन body parts निम्न हैं  जो आग लगने के पश्चात सक्रिय हो जाते हैं.

     

    1.Deflector

    2.Glass Bulb or Temperature Sensitive Glass Tube

    3.Seal or Cap

    1.Deflector-

    जब आग लगती है glass bulb टूट जाता है तो इसका काम पानी को तेजी के साथ spread  करना होता है.

    2.Glass Bulb or Temperature  Sensitive Glass Tube-

    इस Bulb Glass के अंदर कुछ liquids भरे होते हैं,जैसे कि Mercury या Alcohol and  Water or Glycerin and Water.

    3.Seal or Cap

    जब high temperature observe का bulb glass फूट जाता है तो यह cap खुल जाता है और पानी pressure के अनुसार तेजी से बाहर आने लगता है.

    Sprinklers Working Process-

    चूँकि Sprinkler automatic sensitive fire equipment होता है ऐसे मे कहीं आग लगती है तो यह temperature को sense करता है और Glass Bulb के अंदर भरा liquid तेजी से फैलने लगता है और फट जाता है,जिसके कारण पानी तेजी से spread होने लगता है.

    Color Coding –

    Sprinklers  कई प्रकार के होते हैं और temperature के behalf पर इसकी समझने के लिए color coding की गयी है तो आइए temperature के अनुसार की गयी sprinklers के color coding को विस्तृत रूप से समझते हैं.

    1.Orange  Glass Bulb-

    Yellow Sprinklers

    इसका प्रयोग normal place जैसे-small work place, small kitchen और houses मे किया जाता है.जहाँ इसका installation हुआ है वहाँ temperature  57oC  पर पहुंचता है यह working process में आ जाता है.

    2.Red Glass Bulb –

     

                          Red Sprinkler

    यह 68oC  से नीचे के temperature को झेल सकता है और जैसे ही 68oc  temperature होता है sensitive temperature glass tube फट जाता है, और यह कारी करना शुरू कर देता है.इसका   प्रयोग भी normal place जैसे की-Bank, shopping Mallया कह सकते हैं की small work place   पर किया जाता है.

    3.Yellow  Glass Bulb –

       Yellow Sprinkler

    यह जहाँ लगा होता है 79oC  temperature होने पर सक्रिय हो जाता है और आग बुझाना शुरू कर  देता है.इसका भी प्रयोग normal working place पर ही करते है, और खासकर उस location पर करते हैं जहाँ गर्मी के दिनों मे outer temperature  अधिक होता है.

    4.Blue Glass Bulb –

                       Blue Sprinkler

    इसका temperature  sensitive glass 141oC  पर फट जाता है और glass bulb, working position में आ जाता है.इसका प्रयोग ज्यातर industry या chemical plant मे किया जात है, जहाँ आग लग कर spread (फैलने) के पूरे chance होते हैं.

    5.Mauva Glass Bulb –

    Mauva Glass

    यह 182oC  temperature पर काम काम करता है.यह high degree  sensitive  glass होता है और वहाँ पर लगाया जाता है जहाँ high flammable substance  रखे होते हैं.क्योकि ऐसे स्थान पर आग लगने के बाद temperature  तुरंत बढ़ने की संभावना होती है.जैसे कि-Chemical Industry ,Gases area  and other high risk fire zone..

    6.Black Glass Bulb-

               Black Glass

    इसको ऐसे जगह install किया जाता है जहाँ high temperature  environment होता है.क्योंकि इस glass bulb का working temperature  204o C से लेकर 206oC  होता है.ऐसे मे इस तरह के tube का प्रयोग refinery में या ऐसे जगह पर जहाँ metal को molten (पीघला) कर अलग-अलग shape और size दिया जाता है.

    Installation –

    Sprinklers का connection नीचे स्थित water storage tank से होता है. इसका pipe building के हर तल पर उपलब्ध होता है.इसे हर 3 meter की दूरी पर install करते हैं और यह वहीं burstकरता है जहाँ उसके आस पास का temperature उसके standard को cross कर जाता है.

    Note –

    अगर building  छोटी होती है तो water storage tank हमेशा छत के ऊपर होता है, और high raise  building होता है. वहाँ storage tank हमेशा underground होता है.ऊपर न बनने का कारण building  के ऊपर पड़ने वाला weight pressure होता है.

    इसे भी जाने-