CLI और RLI college and Admission Process

Safety के field में काम करने वाले बहुत सारे student आजकल यह प्रश्न कर रहे हैं कि CLI और RLI क्या है?तो आज इस पोस्ट में हम CLI और RLI के बारे में विस्तृत रूप से जानेंगे.Safety Engineering के लिए पढ़ाई करने student को तो खास कर इसके बारे में जानना, जिससे उन्हे आगे इस field में career बनाने में किसी भी प्रकार की समस्या न हो.

तो आइये CLI और RLI को जानते हैं-

CLI की बात करें तो इसका पूरा नाम Central Labor Institute  होता है और RLI का पूरा नाम Regional Labor Institute  होता है.लेकिन इसे समझने से पहले DGFASLI(डीजीफ़ास्ली ) को समझते हैं.DGFASLI पूरा नाम Direct General Factory Advice Service and Labor Institute होता है.

DGFASLI का setup 1945 में हुआ था.इसको शुरू करने का उद्देश्य था कि जितने भी central और state government हैं और उनके अंदर में जितने भी factories काम करते हैं या उस state में construction work होता है, उन सभी तो safety के बारे में advice करना और state में factory service के बारे में inspect करना होता है.यह सभी काम DGFASLI करता है.

अब RLI और CLI के बारे में समझते हैं-

RLI and CLI-

RLI और CLI का पूरा नाम Regional Labor Institute और Central Labor Institute होता है जैसा कि ऊपर भी बताया गया है. इसको DGFASLI के द्वारा govern अर्थात संचलित किया जाता है.RLI और CLI भारत के सरकारी संस्थान(institute ) होने हैं जहाँ से safety engineering के बारे में सोचने वाले  student यहाँ से industrial safety  से संबंधी course को कर सकते हैं.

भारत में जितने भी certificates हैं चाहे वह engineering जैसे B .Tech और Diploma  या safety का हो अगर कोई भी student government college से किया हो तो उसका benefitउस डिग्री धारक विद्यार्थी को निश्चित मिलता है.

अब आप को उदाहरण के माध्यम से समझाता हूँ तो शायद आसानी से समझ आ जाये.जैसे –अगर कोई student engineering  करना चाहता है तो उसका सपना होता है कि उसे IIT के किसी भी college में admission मिल जाये.उसी तरह से अगर वह defense में जाना चाहता है तो NDA जॉइन करता है.इसी तरह अगर वह safety के field में जाना चाहता है तो उसकी ख़्वाहिश होती है की उसे CLI और RLI college में admission मिले और यह CLI और RLI government संस्थान है जो safety के लिए top institution में गिने जाते हैं.

इसे भी पढ़ें और समझें-

Qualification of Safety Officer-

एक safety officer की qualification क्या होनी चाहिए यह factory act 1948 के section 40(b) में दर्ज है अर्थात safety से संबन्धित जितने भी course हैं वह वह factory act में अंकित हैं.

अगर RLI और CLI के courses की बात करें तो इसमें ADIS ,DIS  और PGDIS  courses होते हैं जिसका पूरा नाम Advance Diploma in Industrial Safety, Diploma in Industrial Safety और Post Graduate Diploma in Industrial Safety होता है और यह सभी courses 1 year diploma होते हैं.

अगर जो भी विद्यार्थी CLI और RLI में admission लेना चाहते हैं उनको बता दूँ कि इन college में admission  का process June या July में शुरू हो जाता है.

अब आइये RLI और CLI के college के बारे में जानते हैं-

1.Central Labour Institure-

CLI का यह college Mumbai में स्थित है और यह पूरे भारत में बस एक ही है

2.RLI की बात करें तो यह पूरे भारत में अलग-अलग state में चार हैं.

a. RLI Silong

b. RLI Faridabaad

c. RLI Kolkata

d.RLI Kanpur

अगर आप भारत के किसी कोने में रहते हैं और CLI कालेज में admission चाहते हैं तो आप को मुंबई आना पड़ेगा और यही आप RLI के college में admission लेना चाहते हैं तो अपने सुविधा और दूरी के अनुसार कालेज को चुन सकते हैं.

अब आइये उपर्युक्त college के admission process के बारे में जानते हैं जिसके आप अगर प्रवेश लेने चाहते हैं जो ज्यादा इन्फॉर्मेशन लेनी नहीं पड़ेगी.

इसे भी जाने-

Admission Process –

इस points मे हम आप को CLI और RLI के बारे में तो बताएँगे ही साथ में यह भी बताएँगे कि अगर आप को इस कॉलेज में एड्मिशन नहीं मिल पाता है तो आप के alternative option कौन से हैं.

तो सबसे पहले हम CLI और RLI के कालेज में प्रवेश के बारे में बताते हैं-

CLI और RLI में अगर admission चाहिए होता है तो दो तरह के candidate का होना ज़रूरी होता है .

1.Sponsored Candidate –

आप जिस भी company में काम कर रहे हैं और आप उस कंपनी के बहुत भरोसेमंद employee हैं और आप के अंदर skill है तो ऐसे में company चाहती है कि आप CLI और RLI के किसी भी कॉलेज में एड्मिशन ले लें.अगर आप company  के तरह से CLI और RLI में admission  लेते हैं तो इसे sponsored candidate कहते हैं.

2.Non Sponsored Candidate –

जब कोई candidate खुद CLI और RLI के लिए अप्लाई करता है और कैंडिडैट अगर कहीं काम भी करता है पर कंपनी का इसमें कोई role नहीं होता है इसे non sponsored candidate कहते हैं.

बहुत से candidate ऐसे होते हैं जो यह सोचते हैं कि कंपनी उन्हे CLI और RLI के sponsored कर रही है वो आसानी से उन्हे admission मिल जाएगा तो यह उनका भ्रम होता है क्योंकि इसमे admission पाने के लिए entrance से गुजरना पड़ता है चाहे हो sponsored candidate हो या non sponsored.

Mandatory Qualification-

RLI और CLI में admission के लिए क्या-क्या qualification होना चाहिए इसके बारे में भी जान लेते हैं.बहुत तो स्टूडेंट को इस बात को लेकर confusion होता है कि CLI और RLI में admission के लिए क्या qualification होना चाहिए, तो चलिये हम आप के इस confusion को दूर करते हैं.

1.CLI और RLI में admission पाने के लिए आप के पास किसी भी engineering branch से university से degree या diploma का होना अनिवार्य होता है, diploma चाहे civil हो, mechanical हो या electrical हो.

इसका मतलब यह हुआ किया आप ने किसी भी संस्थान से B।Tech या Diploma का किसी भी trade से ले रखा है तो आप इसके लिए eligible हो जाते हैं.

2.अगर कोई student physics या chemistry से degree ले रखा है तो वह भी CLI और RLI के लिए eligible हो जाता है.दूसरे शब्दों में कह सकते हैं कि अगर candidate ने honors की डिग्री ले रखा है तो वह इसके लिए योग्य मान लिया जाता है.

3.अगर कोई B.Sc. PCM  से किया हो तो वह वह केवल और केवल RLI Kolkata के लिए apply कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें-

Work Experience in any MNC –

इन कॉलेज में admission के लिए qualification  का होना ही बस शर्त नहीं होता है इसके लिए कॉलेज में apply करने वाले students के पास किसी भी multinational company में 2 से 5 साल का experience होना चाहिए.

2 साल के experience उस candidate के पास होना चाहिए जिसने B.Tech कर रखा है और 5 साल का experience उसके students के पास होना चाहिए जिसने किसी भी trade से 3 years का diploma degree ले रखा हो.  

Fresher Candidate-

अगर कोई fresher candidate है तो वह भी apply कर सकता है ADIS के लिए लेकिन उसके पास विकल्प बहुत कम होता है वह केवल RLI Kolkata के लिए ही मात्र eligible हो पाता है.इसके साथ एक शर्त यह भी होती है कि किसी fresher को तभी admission मिलता है जब कोई experience candidate  प्रवेश के लिए हीं पहुँचता है.Experience candidate पहुँचने पर college पहली प्राथमिकत उसी को देता है जिसने किसी भी इंडियन MNC कंपनी में experience ले रखा है.

Fee –

जहाँ तक fee की बात है तो मैं आप बताना चाहूँगा कि इन government colleges कि course fee बहुत कम होता है और यह लगभग 10000 रुपए के करीब में होती है जो students को draft के माध्यम से देना होता है और यह refundable नहीं होता है.

इसके अलावा और fees जैसे Caution Deposit Fee ,Examination Fee, other fee (hostel fee 50 rupees per day ).अगर आप hostel में रहते हैं तो 50 रुपए प्रति दिन देना पड़ता है और यह बाद में रिफ़ंड हो जाता है.

Application Accepted or Rejected –

जब कोई candidate CLI या RLI college के लिए application submitted कर देता है तो उसको इस बात का पता लगाना ज़रूरी होता है कि उसके application को acceptकिया गया है या reject.इसके लिए आप कि DGFASLI के website पर जाना होता है और वहाँ से information लेना होता है.

आप को examination से संबन्धित सभी सूचनाएँ यहाँ मिल जाती हैं कि आप के exam का date कब है इसके साथ interview के schedule के बारे में भी आप को DGFASLI के website से पता  कर सकते हैं. इसके साथ आप को mail आता है और उसके माध्यम से भी आप को सब कुछ पता चल जाता है.

हमने ऊपर लिखा था कि अगर आप को CLI और RLI college मे admission नहीं मिलता है तो आप को निराश होने कि ज़रूरत नहीं है.अगर आप MSBTE ( Maharastra State Board of Technical Education )से भी ADIS कर सकते है यह CLI के बराबर तो नहीं हैं लेकिन इसकी भी डिमांड अधिक है और आप कोर्स complete करने के बाद से अच्छे कंपनी में जॉब पा सकते हैं.

“अगर यह पोस्ट आप को अच्छा लगे तो इसे शेयर करना न भूलें जिसे कि अन्य safety engineering के क्षेत्र में जाने वाले student को सूचना मिल जाये और बिना भटकाव के इस दिशा में आगे बढ़ जाएँ.”

इसे भी जाने-

2 thoughts on “CLI और RLI college and Admission Process

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *