Spontaneous Ignition | Spontaneous Combustion

What is Spontaneous Combustion ? –

कई बार जब कार्य का संचालन बंद होता है और आग लग जाती है तो बहुत से लोगों को इस पर विश्वास नहीं होता है. ऐसे स्थानों पर आग लगने का कारण भी स्पष्ट नहीं होता.

लेकिन यह सच है कि आग लगती भी है और सम्पति का नुकसान भी होता है और ऐसी आगजनी को “spontaneous ignition” कहा जाता है.

Spontaneous ignition जैसी घटनाएँ तब घटित होती हैं जब कोई combustible object को उसके ignition temperature पर गर्म किया जाता है और वहाँ वातावरण में आक्सीजन उत्पन्न होता है.

यह आक्सीकरण (Oxidation) प्रक्रिया गर्मी उत्पन्न करती है और अगर इसे नष्ट नहीं किया जाता है तो ऐसे स्थान पर आग लगने की सम्भावना बढ़ जाती है.

ऐसा तब होता है जब किसी समग्री ढेर को छोड़ दिया जाता है और वहाँ में उपस्थित गर्मी को कम करने के बारे में विचार नहीं किया जाता है. अगर इस प्रक्रिया के दौरान आग लग जाती है जिसे spontaneous ignition के नाम से जानते हैं.

कुछ ऐसे material होते हैं जो spontaneous ignition के अधीन आते हैं और वह आप के कार्यस्थल के आस-पास पाए जा सकते हैं. जैसे – तेल आधारित पेंट, कपास या अन्य ज्वलनशील सामग्री जो ज्वलनशील हो.

इसके अलावा कोई rags (चिथड़ा) पेट्रोल, डीजल या अन्य वनस्पति तेल में गिला हो या oily uniform or कार्य के दौरान प्रयोग में लाये जाने वाले कपड़े, paint scrapping तथा paint spray आग लगने के कारणों में से एक हो सकते हैं.

जब आस-पास की हवा गर्म होती है तो Spontaneous ignition की सम्भावना अधिक होती है. जिस स्थान पर कार्य किया रहा हो वहाँ वेंटिलेशन का व्यवस्था न की गयी हो और मशीन की गर्मीं भी इसका कारण बन सकता है. कार्य स्थल पर hot surface भी खतरे उत्पन्न करने के लिए काफी होते हैं.

Prevention of Spontaneous Ignition –

Spontaneous Ignition को रोकना सरल होता है, क्योंकि इसे घटित होने के लिए आक्सीजन की अवश्यकता होती है. अगर कोई सामग्री आसानी से spontaneous ignition का कारण बन सकता है तो उसे ढके हुए धातु के कंटेनर में रखे जाने चाहिए जैसे –Rag Safety Cans या फिर Trash Cans.

यह मना जाता है कि कंटेनर में पहले से जो आक्सीजन उपलब्ध है तो यह सहज प्रज्वलन का कारण बन सकता है लेकिन इसे reaction प्रकिया का प्रयोग करने आग को आसानी से रोका जा सकता है.

अगर कार्य स्थल पर कोई ज्वलनशील पदार्थ ईधर-उधर फेंका है तो यह spontaneous ignition की संभवनाओं को व्यक्त करता है. इसे सहेज के रखने पर हम संभावित खतरों को दूर कर सकते हैं.

अगर industries के अन्दर उचित हाउसकीपिंग कर दिया जाये तो यह आग रोकने की सबसे सफल कुंजी है. इसके अलावा अगर डस्ट बिन के अन्दर कोई कूड़ा-करवट रखा है तो उसे साफ़ कर देना चाहिए.

जो भी flammable substances अगर कंटेनर के अन्दर रखा गया है तो उसे source of ignition से बचने के लिए उसे ढक्कन से बंद कर देना चाहिए.

कार्य को समाप्त करने के पश्चात् जिस कंटेनर में ज्वलनशील पदार्थ रखा गया है उसे ठीक से बंद किया गया है या नहीं यह कार्यस्थल छोड़ने से पहले जाँच कर लेना चाहिए.

Spontaneous Ignition की सम्भावना जहाँ भी अधिक हो ऐसे स्थान पर कार्य करने वाले को fire fighting से सम्बंधित training अवश्य देनी चाहिए.

Example of Spontaneous Combustion –

Hay, Charcoal, Coal, Cotton, Oil seeds and oil-seeds Products etc.

इसे भी पढ़ें –

Principle of Fire in Hindi

Fire Prevention and Protection | आग से बचने के उपाय

RACE Full Form in Fire Safety

RACE Full Form in Fire Safety

Flash Point, Fire Point and Auto Ignition Point in Hindi

Latest Articles