Emergency Action Plan
Emergency Response Procedures Workplace

Emergency Procedure in Workplace –

Emergency Response Plan क्या होता है ?

किसी भी industry या construction site पर कार्य हो रहा होता है तो कई बार उस कार्यस्थल पर ऐसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है कि health, life, property और environment को तत्काल नुकसान पहुँचने का खतरा रहता है. ऐसे में किसी भी emergency से बचने के लिए आपके workplace पर health और safety से सम्बंधित एक plan बनाने और उसके प्रति तैयारी करने की अवश्यकता होती है. जिससे emergency के दौरान इसका पालन किया जा सके.

जहाँ तक workplace पर emergency की बात है यह कार्यस्थल के environment के उपर निर्भर करता है. यहाँ पर कार्यस्थल पर होने वाले कुछ ऐसे common types के emergency के बारे में बात करने वाले हैं जिसके लिए management को हमेशा तैयार रहने की अवश्यकता होती है.

आइये उस सामान्य तरह के आपातकालीन स्थिति को जानते हैं, जिसे उत्पन्न होने के पश्चात् उसे निपटने की अवश्यकता होती है.

  1. आग या विस्फोट (Fire or Explosions)
  2. मेडिकल आपात स्थिति ( Medical Emergencies)
  3. बहुत बुरा मौसम ( Bad Weather)
  4. भूकंप (Earthquakes)
  5. बड़ी बिजली विफलता (Major Power Failures )
  6. किसी भी खतरनाक chemical का फ़ैल जाना (Hazardous Materials Spills)

Why Emergency Preparedness in the Workplace ?

  • अगर किसी भी तरह की emergency होती है और उस पर आसानी से काबू पा लिया जाता है तो यह employees और responders को नुकसान पहुँचने से बचाता है.
  • जीवन के लिए खतरा उत्पन्न करने वाले स्थिति को manage करता है.
  • यह machinery, tools और equipment के damage होने पर विराम लगता है तथा safe working environment को विकसित करने में पूरा सहयोग करता है.
  • Emergency को लेकर किसी भी तरह की दुविधा होती है उस को रोकता है.

Elements of an Emergency Procedures in Workplace –

1.Prevention –

Emergency की घटना को कम करने के लिए क्या नीतियाँ और प्रक्रियाएं है.

2. Preparation –

Activities और procedure को सुनिश्चित करने के लिए आप का जो organization है वह प्रभावी ढंग से प्रकिया देने के लिए तैयार है या नहीं.

3. Response –

अगर किसी भी प्रकार की emergency हो रही है तो कैसा action लिया जा रहा है और किस तरह की करवाई की जा रही है.

4. Response –

अगर किसी तरह की emergency होती है तो उसके बाद जो कार्य है उसको नार्मल तरीके से कैसे handle किया जाये.

Confined Space Rescue Plan

Protective Devices for Electrical Hazards

Steps of Emergency Plan –

Industry/Organization में होने वाले emergency से बचने के लिए किस तरह की planning की आवश्यकता होती है. यह बहुत बड़ा चर्चा का विषय है लेकिन कुछ बिन्दुओं क्र माध्यम से काफी short में उसे जानने का प्रयास करेंगें.

  1. Establish – Emergency Plan तब ज्यादा प्रभावित होगा जब सभी departments के senior managers के द्वारा समर्थन दिया जायेगा और यह सबसे प्रभावी ढंग है.
  2. Emergency plan के अंतर्गत यह भी आता है कि जो risk होते हैं और company को इसके रोकने की जो क्षमता होती है उसका आंकलन करना हर समय ज़रूरी होता है.
  3. Emergency response plan को विकसित करने की अवश्यकता होती है.
  4. जो plan बनाया गया होता है उसे लागु करें. इसके अलावा काम में प्रयोग लाने वाले उपकरण अवश्यकता के अनुसार मांगे . कार्य के समय जिस तरह की समस्या हो रही है उसके लिए अपने supervisor या फिर safety professional से communicate करें और समय- समय पर ज़रूरत के अनुसार training प्राप्त करें.
  5. जो plan लागू किया गया है उसका analysis करें और mock drill के माध्यम से company में दी जा रही emergency सर्विसेज को जांचे.
  6. जब किसी plan को लागु कर दिया गया तो उसके प्रभावीकरण को जांचे और जहाँ अवश्यकता हो लगातार उसमें improve करें.

Written Emergency Response Plan –

किसी भी industry के अन्दर जो emergency response plan होता है लिखित होता है, जिसके कारण discuss करते समय कोई बिंदु छुटता नहीं है और वह workplace को health safety और environment policy को बहुत प्रभावित बनाता है.

आइये उन बिन्दुओं को देखते हैं.

  • जो written emergency response होता है उसमें संभावित emergency स्थितियों का दायरा और रूपरेखा का वर्णन होता है.
  • Alarm कब बजाय जायेगा और emergency के दौरान प्रकिया कैसे और कब शुरू किया जायेगा.
  • Industry के अन्दर working site पर emergency response procedures क्या है अर्थात emergency के समय किस तरह के प्रक्रिया की अवश्यकता होती है.
  • किसी भी accident/incident के command करने का ढंग क्या है तथा किसकी क्या भूमिकाएं और जिमेदारियां है written emergency response plan में इन सभी बिन्दुओं के बारे में लिखा गया होता है.
  • किस तरह के emergency के दौरान power को बंद करना होता है, इसमें लिखा गया होता है.
  • अगर किसी स्थान पर दुर्घटना होती है तो वहाँ से निकलने के पश्चात् कहाँ और किस स्थान पर एकत्रित होने की अवश्यकता होती है.
  • अगर industry के अन्दर किसी भी प्रकार की emergency होती है तो communication का माध्यम क्या होगा और किस तरह के protocol को follow करते हुए इसे जारी रखना होगा.
  • किस तरह के emergency में किसे contact करने की अवश्यकता होती है, यह इसमें लिखित होता है.
  • Emergency के दौरान किस तरह के संसाधन organization के द्वारा उपलब्ध कराए जायेगें इसके बारे में emergency response procedure में लिखा गया होता है.