July 27, 2021
Hazards and Precaution Safety Awareness Uncategorized

Manual Handling Hazards in Construction Site

                                         Manual Handling

किसी भी material को हाथ से या शारीरिक बल से एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाते हैं तो इसे ही manual handling कहते हैं. इसमें किसी भी वस्तु को उठाना, नीचे रखना, धक्का देना, खींचना या खींच कर ले जाना आदि procedure को manual handling कहते हैं.

जब कोई भी workers manual handling के नियमों के विरुद्ध जाकर काम करता है जो अलग- अलग कंपनी के अंदर दंड के अलग अलग नियम होते हैं. बहुत से कंपनी के अंदर नियम इतने कड़े होते हैं कि इसके विरुद्ध जाने पर jail जाने की संभावना रहती है.

Manual Handling  के दौरान कार्यस्थल पर hazards, injuries या health संबन्धित issues होने कि संभावना रहती है ऐसे में employer कि ज़िम्मेदारी होती है कि manual handling करते समय भी workers के health और safety को लेकर सतर्क उतना ही सतर्क रहे जितना की अन्य किसी काम के दौरान रहता है.

चूंकि कंपनी के अंदर प्रत्येक department में कहीं न कहीं  handling का होता है इसलिए company के द्वारा work place booklet प्रत्येक संगठन या संस्थान को दिया जाता है जिससे कार्यस्थल पर होने वाले दुर्घटना पर विराम लगाया जा सके.यह booklet कार्य से संबन्धित जितने भी खतरे होते हैं उनसे अवगत कराता है और उसके सुरक्षा के बारे में प्रकाश डालता है.

अगर किसी भी material को सुरक्षित रूप से एक स्थान से दूसरे स्थान तक नहीं ले जा सकते हैं तो उसके लिए additional equipment का प्रयोग करते हैं लेकिन इसके प्रयोग करने के दौरान इनके अपने खतरे होते हैं और उपयोग करने से पहले इसके बारे में विचार कर लेने की आवश्यकता होती है.

इस post में manual handling hazards, manual handling meaning,  manual handling control measures, manual handling safety, manual handling in construction site, manual handling techniques, manual handing in hindi, manual material handling in hindi, manual handling hazard in hindi,  मैनुअल हैंडिलिंग क्या है  आदि के बारे में लिखा गया है  

Manual Handling kya hai in hindi

Definition of Manual Handling –

किसी भी material को एक जगह से दूसरी जब man power के द्वारा shift करने का जो procedure होता है manual handling कहलाता है.

Manual Handling Principles –

 

Manual Handling kya hai / Manual handling kya h

मैनुअल हैंडिलिंग  activities  के दौरान कई ऐसे factor हैं जो खतरे उत्पन्न करते हैं. यह कार्य, भार और व्यक्ति का combination है.

जब हैंडिलिंग किया जा रहा हो तो कुछ steps को follow करना पड़ता है, जो handling के दौरान कार्य स्थल पर होने वाले खतरों से सभी को बचाता है. आइये उन महत्वपूर्ण बिन्दुओं को देखते हैं.

1.Plan the Lift –

जब manual हैंडिलिंग के दौरान किसी भी सामान को lift करना होता है इसलिए आवश्यक होता है कि लिफ्ट करने से पहले एक plan बनाए और  उसका अनुसरण करते हुये material को उठाने का कार्य शुरू करें. जब मैनुअल हैंडिलिंग किया जाना होता है तो risk assessment कि आवश्यकता होती है और कार्य शुरू होने से पहले इसे किया जाना चाहिए जो risk के level को काफी हद तक कम कर देता है. 

2. Reduce the Distance –

अगर संभव हो सके तो मैनुअल हैंडिलिंग के distance को कम कर दें.

3. Map the Route –

जिस भी रास्ते से handling करना है उस रास्ते से जितने भी unnecessary material हैं या किसी भी प्रकार का कोई object है तो उसे हटा देना चाहिए अन्यथा  उस वस्तु से ठोकर लगने के पश्चात के accident होने के chances बढ़ा जाते हैं.

4. Wear Suitable Clothes –

जब मैनुअल हैंडिलिंग किया जाता है तो suitable कपड़े पहनना अनिवार्य होता है अन्यथा कपड़े ढीले या टाइट होने पर दुर्घटना कि संभावना रहती है या कपड़ा किसी और कारण से दुर्घटना का कारण बन सकता है.

5.Ensure You Have Good Grip – 

Material को उठाने से पहले खुद को सुनिश्चित हो लें कि उस material पर आपकी पकड़ मजबूत हो गयी है तभी आप को उसे lift करना चाहिए अन्यथा छुट कर गिरने के पश्चात पैर crush होने कि संभावना रहती है .

6. Manual Handling Training – 

जब मैनुअल हैंडिलिंग किया जाना होता है तो उसके पहले उससे संबन्धित training कि आवश्यकता होती है, जिसके दौरान handling के safe procedure के बारे में बताते हैं और उसके दौरान किस तरह के खतरे और जोखिम  की संभावना होती है उसके बारे में विस्तृत रूप से चर्चा करते हैं.

7. Know Your Limits –

सबके अंदर भार उठाने की एक क्षमता होती है ऐसे में manual handling करने वाले को अपनी क्षमता के बारे में जानकारी होनी चाहिए अगर handling करने वाले को यह लग रहा है कि जिस भार को वह उठाने जा रहा है वह उसकी क्षमता से अधिक है तो वह assistant के लिए demand कर सकता है.

Manual Handling Techniques – 

सबसे पहले यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि भार को उठाते समय किस प्रकार के चोट लगने की संभावना होती है जिससे की weight lifting करते समय सही techniques का प्रयोग किया जा सके और खतरा मुक्त हुआ जा सके.

सुरक्षित रूप से भार को उठाने के लिए निम्नलिखित बिन्दुओं का अनुसरण करें.

1.किसी भी material को lift करने के लिए बैठें तो पैर को hip से touch न होने दें और दोनों पैरों को एक में न चिपकने दें.

2.पीठ, कूल्हों और घुटनो को एक दम tight नहीं करना चाहिए अर्थात इनके बीच लचीलापन बना रहे.

3. जिस भी वस्तु को उठाना है उसे कस के पकड़ें.

4.जब भार को लेकर उठ रहे हैं तो leg muscles के सहारे उसे उठाएँ.

5. जब भार ले जा रहे हों तो पीठ को सीधा रखें. पीठ पर भार न आने दें अन्यथा mineralogical hazards की संभावना रहती है.

6. Load को ढोते समय हमेशा भुजा (arms) को सीधा रखें.

7. जब load को ढो रहे होते हैं तो सर को हमेशा सीधा रखें और चेहरा सामने की तरफ होना चाहिए. 

8.चलते समय भार कभी भी शरीर से दूर नहीं रहना चाहिए. उसे शरीर से चिपका कर रखना चाहिए गर्दन के नीचे रखना चाहिए.

Hazard  and  injuries  in manual handling –

1.जब किसी sharp object को एक जगह से दूसरी जगह workers का द्वारा शिफ्ट करते हैं, ऐसे समय में उंगलिया कटने की पूरी संभावना बनी रहती है.

2.कई बार गर्मियों के दिनों में बाहर रखे metal बने से material धूप से गरम हो जाते है. ऐसे मे उन्हे shift करने पर burn of body की पूरी संभावना रहती है.

3.अगर मैनुअल हैंडिलिंग के लिए कोई workers समान उठाता है, और उसे उठाने का procedure न पता हो तो पैर crush होने के पूरे chance रहते हैं.

4.मैनुअल हैंडिलिंग  करते समय अगर workers fun करते हैं तो material पैर पर गिरने के पूरे chance होते हैं.

5.किसी भी material को उठाने का अगर method न पता हो तो उँगली या कलाई मे खिंचाव आ सकता है.

6.समान उठाते समय इस बात पर basically ध्यान देना चाहिए कि जो समान रखा है उसे उठाने के लिए कौन सा angel सही होगा तो समझ सकते हैं कि आगे चल कर ergonomic hazard के पूरे chance  होते हैं .

Precaution –

1.जब कोई sharp object उठाया जा रहा हो तो वहाँ इस बात पर ध्यान देना होता है कि manual handling करने वाला proper gloves ले रखा है या नहीं.

2.बाहर जो material रखा गया होता है और गर्मियों के दिनो मे तेज धूप होने के कारण गरम हो जाता है तो उसे शिफ्ट करने के लिए या तो मौसम के सही होने का इंतज़ार करें या ज्यादा ज़रूरी है तो proper PPE के साथ उसे मैनुअल हैंडिलिंग करने का permission  दें.

3.Manual handling  हमेशा competent person के द्वारा ही कराये.

4.Manual handling  कराते समय रास्ते में जितने भी unwanted material हों उसे हटवा दें अन्यथा tripping hazard  होने की प्रबल संभावना रहती है.

5.किसी भी person से मैनुअल हैंडिलिंग के लिए ना बोलें.जिस भी व्यक्ति को इसके बारे मे पूर्ण जानकारी हो उसे ही handling के लिए बोलें.

6.जब rigger समान को उठा रहा है तो उसके body position पर ध्यान दें.

7.किसी भी material को किसी भी person से जबर्दस्ती shift करने के लिए बोलें अन्यथा material का ठीक ढंग न उठा पाने की स्थिति मे कलाई मे मोच,पैर के कुचलने,फ्रेक्चर या खिचाव के पूरे chance होते हैं.

Precaution are needed to avoid accident in manual handling-

Manual Handling Kya hota hai

1.जब manual handling के द्वारा load उठाया जा रहा हो तो उसे proper distance पर खड़ा रहना चाहिए.

2.किसी भी material को lift करने से पहले जितने भी sharp edge हैं उसे हटा देना चाहिए.जिससे हाथ के injury होने की संभावना खत्म हो जाए.

3.जब manual handling किया जा रहा हो ऐसे में यह देख लेना चाहिए कि जो handling करने जा रहे हैं उनके पास proper gloves और shoes उपलब्ध है या नहीं.बिना इसके handling करने की अनुमति नहीं देंगे.

4.अगर material भारी है ऐसे में किसी एक व्यक्ति को उठाने की अनुमति नहीं देंगे इसके लिए assistance की आवश्यकता होती है और उसे उपलब्ध कराएंगे.

5.जब manual handling किया जा रहा हो तो उस रास्ते को block केआर दें अन्यथा किसी के आने जाने के पश्चात काम में व्यवधान उत्पन्न होगा और यह दुर्घटना का कारण बन सकता है.

6.अगर manual handling किया जा रहा हो action, movement, force पर ध्यान देना आवश्यक होता है.अगर आप को थोड़ा भी doubt होता है तो handling को कुछ देर के लिए hold कर देना चाहिए और इसका कारण जान के दूर करने के पश्चात पुनः काम शुरू करना चाहिए.

7.अगर जिस object को उठाना का position सही नहीं है तो सबसे पहले object को सही करेंगे फिर उसके बाद उसे उठाएंगे.

8.अगर आप को लग रहा है कि handling करने के दौरान जो चीजें प्रयोग कि जा रही हैं उसके use करने का ढंग बदलने के पश्चात और safe ढंग से handling करेंगे तो चीजों के प्रयोग करने के ढंग को तुरंत बदलें.

इसे भी पढ़ें-

“इस पोस्ट में अगर कुछ कमी हो तो कमेंट में ज़रूर कहें जिसे हम दूर करने का प्रयास करेंगे.”

Related posts

Risk Assessment in Hindi I Risk Assessment कैसे बनाते हैं?

Wajid Ali

NEBOSH और ADIS में कौन अच्छा है?

Wajid Ali

Types of Hazards in Hindi | संभावित खतरों के प्रकार

Wajid Ali

Leave a Comment