July 27, 2021
Construction Safety Job Hazard Analysis Uncategorized

How to Conduct Tool Box Talk Meeting

Tool Box Talk in Hindi

यह कभी भी work शुरू होने से पहले या shift change होने के बाद किया जाता है. Tool box talk के समय हम उस कार्य स्थल पर होने वाले कार्यों से संबन्धित hazards से workers को अवगत करते हैं और  इसके लिए company के द्वारा किस तरह का precaution दिया जाता है या उनको लेना होता है इसके बारे में उन्हे बताते हैं.इस tbt की समय अवधि बहुत छोटी होती है.

Tool box talk को कभी भी बहुत प्रभावित ढंग से संचालन करना चाहिए जिससे उसका प्रभाव workers के ऊपर पड़ सके.यह प्रत्येक दिन दिया जाता है और उसका कारण यह होना है की workers के काम से संबन्धित होने वाले खतरे और बचाव से संबन्धित जानकारी को refresh किया जा सके.

यह हमेशा competent person के द्वारा संचालित किया जाना चाहिए जो कार्य में होने वाले सभी खतरों और उससे बचाव के बारे में प्रत्येक points को cover कर सके.

Tool Box Talk को कई बार tool meetings के नाम से भी पुकारा जाता है इसलिए आप को confuse होने की ज़रूरत नहीं है. 

इस पोस्ट में tool box talk topics, tool box talk conducted, tool box talk meeting, tool box talk meaning in hindi, tool box talk conducted every, tbt full form, tbt meaning, tbt meaning in text, tbt topics, tbt kya hai, tbt kise kahte hain, tbt ka pura naam kya hai आदि के बारे में इस पोस्ट में लिखा गया है 

Full Name Of TBT – Tool Box Talk

TBT Full Form in Safety – Tool Box Talk 

 

Definition of TBT-

Company  के अंदर किसी भी तरह का कार्य शुरू करने से पहले एक तरह का informal meeting होता है या कह सकते हैं group discussion होता है. जिसमे safety का employee जो कार्य हो रहा है, उससे संबन्धित hazards, risk और safety issues के बारे बात करते हैं tool box talk कहलाता है.

 

tbt meaning in hindi

TBT के दौरान बताए जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण बिन्दु

1.कार्य स्थल पर safety के importance के बारे मे workers को बताते हैं।

2.Work  site  पर कौन सा कार्य होने जा रहा हैं, उसके बारे मे discuss करते हैं और उससे संबन्धित जो hazards, risk है उसके बारे मे बताते हैं. और उस hazards से बचने के लिए कौन-कौन safety precaution  company उपलब्ध करती हैं उसके बारे मे deeply चर्चा हैं.

 

3.जो काम होने जा रहा है उसमे किस तरह के tools, tackles का प्रयोग होने जा रहा है,उसके साफ-सफाई के बारे मे जानकारी देने हैं तथा उससे होने वाले संभावित खतरों के बारे मे बताते हैं. और उससे बचने के उपाय के बारे मे अच्छी तरह समझते हैं.

4.अगर कोई work start और उसमे किसी भी प्रकार का implementation हैं या जो कार्य करने के ढंग मे किसी भी प्रकार का changing है तो workers को तुरंत उसके बारे मे information दें.

5.पिछले mistake को याद रखते हैं, और जो दुर्घटना का कारण था उसके बारे मे बताते हैं कि पिछले accident कि पुनरावृति न हो सके, और जो company loss हुआ और जो workers कि injury हुयी future  मे दुबारा न हो।

6.TBT के दौरान correct PPE’S के बारे मे बताते हैं, जिससे अगर किसी भी प्रकार का Accident हो तो वह बिना किसी भी प्रकार कि injury हुये आसानी से बच सके.

 

7.TBT के दौरान motivational story  सुनाये और उन्हे family से interactकरने का हरसंभव प्रयास करें कि अगर workers  unsafe  activities के बारे मे सोचे तो तुरंत उसके family का चेहरा सामने आए और वह गलती करने से बच जाए.

8.TBT जब हो रहा हों तो workers के health से संबन्धित discuss करना न भूलें. जिससे वह स्वस्थ रहे और काम करने मे मन लगे और दुर्घटना कि संभावना काफी हद तक कम हो जाये.

9.जब TBT हो रहा हो तो housekeeping के importance को बताएं और बिना housekeeping  हुये कार्य होने पर उसके disadvantage जैसे कि-sleeping ,tripping, fire  या उससे होने वाले अन्य दुर्घटनाओं के बारे मे बताएं.

 

10.जो work होने जा रहा हैं उसके बारे मे विस्तृत रूप से describe  करना न भूलें.

11.जिन workers को TBT दें रहे हैं,उन्हे question करने का मौका दें कि अगर उनके मन मे किसी भी प्रकार का doubt चल रहा है तो उसको clear कर सकें.

12.TBT देते समय सरल भाषा का प्रयोग करें,जिससे workers को समझ आए. क्योकि works ज्यादा पढे-लिखे नहीं होते ऐसे मे उन्हे difficult भाषा समझ नहीं आएगी, और कोशिश करें कि जिस क्षेत्र के workers ज्यादा हों उन्हे उसी क्षेत्रीय भाषा मे समझाने का हर संभव प्रयास करें.

13.TBT हमेशा कार्यस्थल पर होना चाहिए,जिससे की potential hazards को पहचान कर उससे संबन्धित control measure को आसानी से समझाया बताया जा सके.

 

14. Tool Box Talk केवल safety supervisor या safety officer को नहीं लेना चाहिए,कभी-कभी यह किसी workers से भी देने के लिए बोलें.जिससे वहाँ उपस्थित workers के safety awareness के बारे में पता किया जा सके.

15.अगर साइट पर किसी नए खतरे को observe करते हैं और वहाँ additional PPE की ज़रूरत पड़े तो उसके importance के बारे में बताए और उसे उपलब्ध कराने का हर संभव प्रयास करें .

When You Planning The Tool Box Talk –

जब आप tool box talk के लिए planning कर रहे हैं तो आप को इन प्रमुख छः points के बारे में  अवश्य जानना होगा जिसे आप TBT को conduct करते समय और effective बना सकें.

The Agenda –

TBT से पहले आप को यह जानना आवश्यक होता है कि आप को किस विषय पर tool box talk देना है जिससे कि आप उस topics से संबन्धित पहले ही ज्यादा से ज्यादा knowledge अर्जित कर लें जिससे आप tool box talk को अधिक प्रभावित बना सकें.

जब tool box talk के लिए agenda तैयार कर रहे हों तो यह देख लें कि जिस विषय पर आप चर्चा करने वाले हैं, उस काम के दौरान कौन- कौन से equipment का प्रयोग किया जाना है.आप उससे संबन्धित पहले से ही अधिक जानकारी इकट्ठा कर लें और tbt के दौरान workers को उन पहलुओं के तरफ कि ध्यान को आकर्षित कराने का प्रयास करें जिससे अब तक वह अनभिज्ञ रहे हैं.

Topics –

पहले ही आप यह सुनिश्चित कर लें कि आप को किस विषय पर tbt का संचालन कराना है जिससे कि आप workers को उस काम से संबन्धित सुरक्षा के बारे में विस्तृत रूप से चर्चा कर सकें या आने वाले समय में workers इसके बारे में बता सकें.

किसी विषय को चुनने से पहले आप के आस- पास जितनी भी घटनाएँ, दुर्घटनाएँ और सुरक्षा के नियमों का उल्लंघन हुआ है उसकी समीक्षा करें और उसकी सूची तैयार करें ताकि आप उनको आसानी से पहचान सकें और tbt conduct के दौरान उसे बता सकें.

The Format –

Positive note के साथ अपने tool box meeting कि शुरुआत करें, team work को promote करते हुये और इस बात को remind करना न भूलें कि TBT उनके लिए कितना महत्वपूर्ण होता है.

Tool Box Talk को conduct करने के अलग- अलग methods हैं. यहाँ कुछ बिन्दु दिये गए हैं जहाँ आप tbt के दौरान विचार कर सकते हैं.

  •  TBT के दौरान question और answer format को तैयार करने जिसे आप को पूछना है.
  • Work place पर safety से संबन्धित समस्याओं के बारे में चिंता करना या discuss करना और उसके समाधान के बारे में बताना.
  • TBT  conduct करते समय Motivational stories को सुनाना चाहिए जिससे workers कार्य से संबन्धित हज़ार्ड्स को seriously लें और उस संभावित खतरों से बचने के लिए हमेशा प्रयासरत दिखें.
  • Workers किसी भी बात को ध्यान से तब सुनते हैं जब कोई उनका सम्मानित या निश्वसनीय उनके सामने प्रस्तुति देता है.
  • हमें उन्हे किसी भी प्रकार का लिखित सारांश देना चाहिए कि जब ज़रूरत पड़ने पर वह उससे मदद ले सकें और काम को safe procedure करके खतरों को दूर कर सकें.
  • कुछ ऐसा करना चाहिए कि workers online tool box talk को देख सके. अन्यथा उस दिन अनुपस्थिति रहने पर वह इससे वंचित रह सकता है और कम के समय समस्या खड़ी कर सकता है.

Giving a Tool Box Talk –

Tbt एक उनौपचारिक (informal) मीटिंग होता है, यदि आप लिखित material की बात कर रहें हैं तो उसे आप देने से पहले लिख ज़रूर सकते हैं लेकिन जब बोलना हो तो इसे सरल या कह सकते हैं कि अपनी भाषा में समझाने का प्रयास करें. इसे कुछ इस तरह समझा जा सकता है.

  • TBT को कभी भी greeting word जैसे- Good Morning, Good Evening आदि से शब्दों से शुरू करनी चाहिए.
  • Tool box talk का समय निर्धारित करें.यह 15 minutes से अधिक नहीं होना चाहिए और 15 minutes प्रश्न और उत्तर के लिए रखें.
  • जब tool box talk को conduct किया जा रहा हो तो एक open – ended question और answer का session रखें और सभी workers को उसमें भाग लेने के लिए आमंत्रित करें.
  • अपने points को clear करने के लिए उपकरण का प्रयोग करें या video या pictures को दिखा कर इसे स्पष्ट करें. यह सबसे प्रभावित तरीकों में से एक होता है.
  • अपने workers को भी सुनना चाहिए जिससे आसानी  से यह तय हो पाता हैं कि इन्हे आगे training कि ज़रूरत हैं या नहीं.
  • जब video या picture के माध्यम से किसी बिन्दु को समझा रहे हैं तो प्रमुख बिन्दुओं के highlight कर देना चाहिए जिससे workers को समझने में आसानी हो सके.
  • जो workers tbt conduct के समय भाग मे रहे हैं उन्हे उनकी रुचि और उत्साह के लिए ध्न्यवाद देना न भूलें जिससे उनकी confidence बढ़े और जो बताया गया है उसका अनुसरण करें में पीछे न हटें.   

The Place and Time –

TBT conduct शुरू करने का सबसे सही समय कार्य शुरू होने से पहले पहले होता है और वो भी कार्यस्थल पर जहाँ कार्य होने जा रहा है. इसका संचालन कभी – कभी दुर्घटना के बाद भी किया जाता है या lunch के बाद इसका संचालन किया जा सकता है. आप कह सकते हैं जब आवश्यक हो तो tbt conduct किया जा सकता है.

अगर कोई भी कार्य का संचालन दो shift में किया जा रहा है तो प्रत्येक shift में कार्य शुरू होने से पहले इसका conduct किया जाना चाहिए और उस स्थान पर किया जाये जहाँ माहौल काफी शांत हो जिससे workers बात को बिना किसी भी व्यवधान के बातों को सुन सके और कम के दौरान उसका अनुसरण कर सकें.

TBT Formate-

Tool Box Talk Format

इसे भी जाने-

 

Related posts

Online Free Safety Courses in Hindi

Wajid Ali

First Aid Procedure in Hindi

Wajid Ali

Hazards of Confined Space in Hindi

Wajid Ali

Leave a Comment