Safety should be the first priority for any workplace

Safety Tips or For Safety Precautions –

Safety in Workplace

जब किसी भी industry के अन्दर कार्य हो रहा होता है तो सुरक्षा वहाँ की पहली प्राथमिकता होती है और यह तब संभव होता है जब कार्य के दौरान safety precautions पर विशेष ध्यान दिया जाता है. जहाँ तक safety precautions की बात की जाये तो यह पूरी तरह से कार्य के दौरान उत्पन्न होने वाले परिस्थिति पर निर्भर करता है, जिस तरह की परिस्थिति होती है उसी तरह का safety precautions की अवश्यकता होती है.

Safety Precautions तब बहुत प्रभावशाली होता है जब work site पार कार्य करने वाले workers के अन्दर safety awareness हो, workers के अन्दर जितना अधिक सुरक्षा को लेकर जागरूकता रहेगी उतना ही कार्य के दौरान दुर्घटना की संभावना कम होगी.

इसलिए safety officers की यह जिम्मेदारी होती है कि कार्यस्थल पर इस तरह से safety culture को develop करे कि प्रत्येक workers सुरक्षा को पहली प्राथमिकता समझे.

आइये अब उन safety precautions के बारे में जानते हैं जिसका अनुसरण करने के पश्चात् दुर्घटना में काफी हद तक गिरावट आती है. यह दुर्घटना रोकने का सबसे सफल विकल्प तो नहीं कह सकता लेकिन इतना अवश्य कहा जा सकता है कि इन सभी safety precautions के follow करने पर काफी हद तक दुर्घटना पर विराम लगाया जा सकता है.

1.Every one responsible for their own safety and the safety of others –

Safety Professional आप को सुरक्षित रहने का ढंग बता सकता है, वह आप को समझा सकता है कि आप कैसे सुरक्षित रह सकते हैं. लेकिन पूर्ण सुरक्षा की जिम्मेदारी आप के हाथ में होती है. आप को उन सभी सुरक्षा के नियम का अनुसरण करना होता है जो industry के द्वारा तय किये गए होते हैं. यह सुरक्षा केवल आप तक ही सिमित नहीं होती है बल्कि अन्य को भी सुरक्षा प्रदान करती है. क्योंकि कार्यस्थल पर आप अकेले काम नहीं करते, रोड पर भी आप अकेले नहीं चलते. इसलिए खुद के सुरक्षा के साथ दुसरे के सुरक्षा का ध्यान रखना आवश्यक होता है.

2. All Accident are Preventable –

कार्यस्थल पर कोई भी ऐसी दुर्घटनाएं नहीं होती जिन्हें रोका नहीं जा सकता था, प्रत्येक दुर्घटना रोकने योग्य होता है. कार्यस्थल पर अगर कोई घटना या दुर्घटना होता है अगर कोई कहता है कि यह रोकने योग्य नहीं था तो यह गलत कह रहा होता है. इसलिए कार्य शुरू करने से पहले जितने भी संभावित खतरे नज़र आते हैं उन्हें दूर करना आवश्यक होता है.

हाँ यह अवश्य कहा जा सकता है कि कुछ स्थान पर कार्य करने के दौरान खतरे की संभवना अधिक रहती है तो कुछ स्थानों पर कम. जहाँ अधिक खतरे की संभावना रहता है वहाँ अधिक precaution की आवश्यकता है.

3. Follow Company Rules, Regulation and Procedure –

जिस industry में आप काम कर रहे होते हैं तो वहाँ सुरक्षा को लेकर के उनके अपने नियम होते हैं, यह कार्यस्थल पर होने वाले दुर्घटना को ऑब्जरवेशन करने के पश्चात् बनाये जाते हैं और इसका अनुसरण करना प्रत्येक employees की जिम्मेदारी होती है. इसलिए आप जहाँ भी काम रहे हों वहाँ के rules, regulation को पालन करना होता है और कार्य करने के जो भी procedure होता है उसी के अनुसार करना होता है.

4. Assess the Risk, Stop and Think –

कोई भी कार्य करने से पहले risk को assess करना अर्थात आंकना आवश्यक होता है. Industry के अन्दर risk लेकर कार्य करना allow नहीं होता है. अगर आप as a safety professional कार्य कर रहे हैं तो risk का आंकना आप की प्राथमिकता होती हैं जिससे होने वाले दुर्घटना पर विराम लगाया जा सके.

अगर आप कार्यस्थल पर या industry में कहीं कार्य के दौरान जोखिम नज़र आता है तो आप को कार्य को रोकना होता है, फिर उस risk को कैसे दूर किया जाए उसके बारे में विचार करना होता है. जब risk को दूर करने का सबसे अच्छा सुझाव दिख जाये या मिल जाये तो लागू करने के पश्चात् फिर काम को शुरू करना होता है.

5. Be Proactive About Safety-

किसी भी organization के अन्दर सुरक्षा का level तभी अधिक होगा, जब आप सुरक्षा को लेकर अधिक सक्रीय रहेगें. अगर आप as safety officer कहीं काम कर रहे होते हैं लेकिन जहाँ खुद के सुरक्षा की बात आती है आप पीछे रहते हैं, या फिर सुरक्षा का अनुसरण नहीं करते हैं तो ऐसे में आप के बातों का प्रभाव बहुत कम जाता है. इसलिए भी सुरक्षा की बात आती है, सक्रीय रहिये. इससे आप भी और आप के साथ कार्य करने वाले workers भी सुरक्षित रहेगें.

6.In You are not Trained, Don’t Do IT –

कोई भी  व्यक्ति अगर जिस कार्य में कुशल होता है वह कोई भी कार्य बहुत सफाई के साथ कर सकता है, उससे गलती होने की सम्भावना बहुत ही कम होती है, इसलिए आप देखते हैं की किसी भी कार्य के लिए अगर किसी भी प्रकार की requirements आता है तो वहाँ पर experience person को प्रथमिकता दिया जाता.

इसलिए कार्य करने से पहले यह देख लें कि वह आप सफाई के साथ उस कार्य को कर सकते हैं या नहीं या उस कार्य के लिए trained हैं या नहीं. अगर आप को लगता है कि आप नहीं कर सकते तो कभी भी उसे करने के लिए कोशिश ना करें. क्योंकि अपरिपक्व व्यक्ति दुर्घटना का कारण बन सकता है.

7. Manual Handling- Manage the lift-

जब manual handling किया जा रहा हो तो lift को manage करने के लिए भार को जितना हो सकता है शरीर के पास रखना चाहिए और भार का सबसे भारी भाग होता है वह शरीर के पास रखना होता है. अगर load के पास पहुंचना संभव नहीं होता है तो इसे उठाने का प्रयास करने से पहले इसे शरीर की ओर slid करने का कर फिर load को lift करना होता है.

8. Don’t Take Shortcuts –

जब safety precautions की बात आती है तो ऐसे स्थान पर shortcut के लिए कोई स्थान नहीं होता है. जब कार्य के दौरान सुरक्षा की बात आती है तो shortcut लेने से बचने के लिए कदम उठाना महत्वपूर्ण होता है. जब workers को toolbox talks दे रहे हैं तो यह बताना आवश्यक होता है कि यह आप के कार्यस्थल के लिए कितना खतरनाक होता है.

9. Practice Good Housekeeping –

एक सुरक्षित और स्वस्थ्य कार्यस्थल बनाए रखने के लिए housekeeping पहली प्राथमिकता होनी चाहिए. किसी भी workplace पर अगर खराब housekeeping है तो यह छिपे हुए खतरों को पेश करता है और वह जल्द ही खतरों का कारण बन जाता है. जैसे -कोई पैदल चल रहा है तो slip, trip की संभवना हमेशा बनी रहती है.

10. Be Prepared –

आप जहाँ भी काम कर रहे हैं वहाँ कब किस तरह की स्थिति उत्पन्न हो जाएगी यह कोई नहीं जनता. इसलिए आप को हमेशा हर तरह के चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार रहने की अवश्यकता होती है.