Ladder Hazards and Precaution in Hindi

    0
    12
    male worker on construction site holding and carrying the ladder

    आज हम इस post में ladder hazards and precaution के बारे में बताने वाला हूँ. Height पर काम करते हुये ladder की आवश्यकता पड़ती है.इसे लंबे समय के कार्य के लिए नहीं प्रयोग करते हैं. फिर भी जितने समय के लिए प्रयोग करते हैं अगर उससे संबधित hazards के बारे में न जाना जाये और precaution न लिया जाये accident की संभावना बनी रहती है.

    आज हम इस topic में ladder से संबन्धित होने वाले संभावित खतरों के बारे और उससे संबन्धित दिये जाने वाले precaution के बारे में जानेगे. जिससे working site पर काम के दौरान आप ladder से होने वाले संभावित खतरों को observe कर सकें और उससे संबन्धित precaution दे करके खतरों को दूर कर सके.

    Ladder meaning in hindi – सीढ़ी

    Ladder Safety

    इस topics में केवल ladder hazards and precaution के बारे में जानेंगे और types of ladder के बारें में अलग से topics कभी लिख देंगे.


    इस पोस्ट में ladder hazards and control measures, ladder hazards and precaution,  ladder hazard injuries,  step ladder hazards, portable ladder hazards, fixed ladder hazards आदि के बारे में दिया गया है.


    आइये सबसे पहले ladder hazards and precaution के बारे में जानते हैं-

    Possibility of Hazards during the Work on Ladder (Ladder Hazards )-

    निम्नलिखित बिन्दुओं के माध्यम से ladder use hazards के बारे में जानते हैं-

    Ladder Safety Training

    1.चूंकि ladder में scaffolding की तरह proper platform नहीं होता हैं ऐसे में किसी भी material या tools, tackles या equipment को ऊपर से नीचे गिरने की संभावना रहती है.

    2.कोई भी व्यक्ति ladder से नीचे की तरह गिर सकता है. गिरने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं जैसे-वह harness का प्रयोग नहीं कर रहा है, ladder पर चढ़ कर welding, grinding आदि वर्क कर रहा है जो सख्त मना होता है, काम के अनुसार ladder का प्रयोग नहीं कर रहा है आदि. ऐसे activities गिरने का कारण बन सकता है.

    3.अगर जिस ladder का प्रयोग कर रहे हैं और वह उस काम के अनुसार छोटा है तो ऐसे में fall of person की संभावना बन सकती है. क्योकि काम के दौरान कभी भी workers comfort फील नहीं करेगा क्योंकि कार्य की पहुँच उससे दूर होगी.

    4.जब किसी metal से बने ladder को energized power line के निजदीक ले जाकर काम कर रहे हैं तो यह बहुत बड़े हादसे का कारण बन सकता है.

    5.जब किसी भी ladder को working platform की तरह प्रयोग कर रहे हैं तो यह दुर्घटना का कारण बन सकता है. क्योंकि ladder का प्रयोग access और egress के प्रयोग में लाया जाना चाहिए अर्थात चढ़ने उतरने के लिए इसका प्रयोग किया जाना चाहिए.

    6.अगर कभी भी portable ladder को सही angle पर न खड़ा किया जाता है तो यह दुर्घटना का कारण बन जाता है.

    7.अगर ladder के अंतिम rungs पर खड़ा होकर काम कर रहे हैं तो यह भी एक खतरे का संकेत हैं

    8.एक से अधिक व्यक्ति एक साथ किसी एक ladder का प्रयोग कर रहे हैं अर्थात जब ladder पर over weight दिया जा रहा हो तो यह दुर्घटना की संभावना व्यक्त करने लगता है.

    9.जब कोई व्यक्ति ladder पर खड़ा होकर काम कर रहा है ऐसे में अगर किसी tools की ज़रूरत पड़ रही है और tools को फेंक कर उस तक पहुंचाने की कोशिश किया जा रहा हो तो यह दुर्घटना का कारण बन सकता है.

    10.जब किसी भी damage ladder का प्रयोग किया जाता है तो खतरे का होने अनिवार्य हो जाता है.

    11.Ladder पर काम करने के दौरान vehicle से ठोकर लगने पर खतरा हो सकता है.

    12.काम के समय अगर ladder छोटा पड़ता है तो उसे box या chair पर रख कर height को बढ़ाना भी दुर्घटना का एक कारण हो सकता है.

    13.किसी भी समान को ढ़ोने के लिए अगर ladder का प्रयोग किया जा रहा है तो यह accident को निमंत्रण देता है.

    14.अगर 10फीट से ज्यादा के ऊंचाई पर ladder का प्रयोग किया जा रहा हो यह खतरे का संकेत देता है.

    Safety Precaution While Working with Ladder ( Ladder Safety tips, Ladder Safety Rules)

    आइये अब ladder से संबन्धित safety precaution या ladder control measure के बारे में जानते हैं.

    Ladder safety rules

    1.काम के दौरान जिस तरह के ladder की आवश्यकता होती है उसी तरह के ladder का प्रयोग करते हैं. आप को पता ही होगा कि ladder कई प्रकार के होते हैं जैसे-Extension ladder, folding ladder, straight ladder और सभी ladder अलग-अलग work के लिए बने होते हैं. ऐसे में काम के अनुसार ladder का प्रयोग करें जिससे दुर्घटना कि संभावना खत्म हो सके. (Ladder के प्रकार का एक अलग से पोस्ट लिख दूंगा)

    2.चाहे जिस तरह का भी ladder हो काम से पहले उसे inspect करना ज़रूरी होता है, inspection के दौरान यह चेक कर लेना चाहिए कि ladder में किसी भी प्रकार कि खराबी तो नहीं है. जब पूरी तरह confirm  हों लें कि ladder में कहीं से भी कोई defect नहीं हो लें ladder का प्रयोग करें या प्रयोग करने कि अनुमति दें.

    3.जब हम energized power line  के नजदीक काम कर रहे हैं तो कभी भी metal के बने ladder पर काम करने की अनुमति न प्रदान करें. चूंकि metal का जो ladder होता है वह उसमे electric supply होता है ऐसे में प्रयोग करते समय बड़े खतरे की संभावना हो सकती है.

    4.जब हम ladder पर काम करने के लिए जा रहे हों तो ऐसे में कभी भी हमें tool belts या hand lines का प्रयोग करना चाहिए. इसका सबसे बड़ा benefit यह होता है कि अगर कोई हाथ से छूटता भी है तो वह नीचे नहीं गिरता है. जिससे किसी व्यक्ति के चोट लगने की संभावना पर विराम लग सकता है.

    इसके अलावा इसका दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि किसी tools या equipment के गिरने के पश्चात उसे नीचे के लेने के लिए बार- बार नहीं उतरना पड़ता है, जिससे fall of person from height की संभावना खत्म हो जाती है.

    5.कभी भी material को ladder से नीचे की तरफ नहीं फेंकना चाहिए. यह नीचे खड़े व्यक्ति के physical injury के लिए काफी होता है. अगर हम ladder पर खड़े व्यक्ति को material फेंक कर देते हैं और ऐसे में वह झुक कर रोकने का प्रयास करेगा अगर material उसके पहुँच से दूर है तो फिर ऐसे में person को ऊपर से नीचे गिरने के chance रहेंगे. क्योंकि worker के एक तरह झुकने पर ladder का सारा भार one sided हो जाएगा और व्यक्ति ladder के साथ धरातल पर आ जाएगा.

    6.अगर ladder छोटा है और काम करने का स्थान आप व्यक्ति के पहुँच से दूर है तो वह कार्य के साथ तक पहुँचने के लिए वह झुक कर काम करेगा.  और कभी स्थित इस तरह आ जाएगी कि वह खुद अपना संतुलन नहीं बना पाएगा,  जिसके कारण ladder पर काम कर रहे व्यक्ति के गिरने कि संभावना कार्य के दौरान बनी रहेगी.

    7.ladder पर कार्य करने से पहले अपने आस-पास के traffic को observe करें.  और देखें कि काम के दौरान आने-जाने वाले व्यक्ति चोटिल हो सकते हैं या ladder पर खड़े व्यक्ति को इससे क्षति हो सकती हैं,  तो उस area को barricade करें और किसी भी व्यक्ति को उस barricading के अंदर जाने कि अनुमति न दें.

    8.जब Ladder को खड़ा कर रहें हैं तो ground के condition को जाँच कर लेनी चाहिए. ladder खड़ा करने का स्थान solid होना चाहिए. अगर मिट्टी गीली है या surface कमजोर हैं तो ऐसे स्थान पर ladder को नहीं खड़ा करना चाहिए. अन्यथा यह दुर्घटना का कारण बन सकता है.

    9.जब व्यक्ति ladder पर चढ़ रहा हो तो ऐसे में उसे अपना shoes को check कर लेना चाहिए. गीला होने पर वह फिसलने का कारण बन सकता है. इसके साथ यह भी देख लेना चाहिए कि कहीं rungs में किसी भी प्रकार का कोई liquid  तो नहीं लगा है. यह भी गिरने का एक कारण बीएन सकता है.

    10.अगर work करने का स्थान व्यक्ति के पहुँच से दूर है तो ऐसे में उसे झुक कर कार्य नहीं करना चाहिए. ऐसी स्थिति में उसे ladder से नीचे उतरना चाहिए, और पुनः ladder को सही जगह shift करने के पश्चात काम शुरू करना चाहिए.

    11.अगर ladder के सहायता से किसी platform पर चढ़ रहे है तो यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि, ladder platform से 1 meter ऊपर निकला है कि नहीं. अगर ऐसे स्थिति नहीं है तो यह ladder safety के मानक को follow नहीं कर रहा है,  और ऐसी स्थिति में उसे प्रयोग करने की अनुमति कदापि नहीं देनी चाहिए.

    12.जब ladder को दीवाल के सहारे खड़ा करते हैं तो वह दिवाल से 750 बनाते हुये खड़ा होना चाहिए. यह ladder के खड़ा करने का सबसे सुरक्षित पैमाना होता है.

    13.जब आप ladder पर चढ़ रहे हैं या उतर रहे हैं तो ऐसे में चढ़ने और उतरने वाले व्यक्ति का face ladder की तरफ ही होना चाहिए. अगर उसका face ladder के विपरीत दिशा में है तो यह totally unsafe activities हैं. अगर working site पर कोई भी व्यक्ति ऐसी activity करता है तो उसे तुरंत रोंके. यह site पर दुर्घटना का करना बन सकता है.

    14.जब ladder पर कोई भी व्यक्ति चढ़ रहा है तो body का तीन part ladder के contact में रहना चाहिए. अगर ऐसा नहीं होता हैं तो फिर दुर्घटना के लिए तैयार रहे. इसलिए ladder प्रयोग करने वाले व्यक्ति के activity को monitor करने अन्यथा आप की लापरवाही दुर्घटना का कारण बन सकता है.

    15.कभी भी दरवाजे के पास ladder को खड़ा करके कार्य नहीं करना चाहिए. अगर दरवाजा खुलता और बंद होता हो. अगर ऐसा है तो यह खतरे का संकेतक हैं. सुरक्षित तरीका यही है की दरवाजे को बाहर से permanent बंद कर दें. फिर ऐसे स्थान पर ladder का प्रयोग करें.

    16.एक समय में सिर्फ एक ही व्यक्ति हो चढ़ने की अनुमति दें, अन्यथा ladder पर over load पड़ने के कारण ladder के टूटने की संभावना रहती है.

    17.Load लेकर कभी भी किसी को ladder पर चढ़ने की अनुमति न दें. और अगर ऐसा working site पर हो रहा है तो इसे रोंके. यह भी दुर्घटना का कारण बन सकता है.

    ladder Tool Box Talk –

    Ladder Safety Poster

    अगर company के अंदर height पर work होने जा रहा होता है जहाँ ladder का प्रयोग करना है तो वहाँ ladder से संबन्धित TBT देते हैं अर्थात ladder tool box talk का दिया जाना अनिवार्य होता है. जैसे अन्य काम के दौरान TBT देते हैं.

    TBT के समय निम्नलिखित बिन्दुओं पर चर्चा करते हैं.

    1.Height पर काम करने के दौरान safety belt का होना अनिवार्य होता है.  ऐसे में देखना यह होता है कि प्रत्येक के पास full body harness है या नहीं.

    2. Harness पहनने से पहले यह जाँच लेते हैं कि उसकी स्थित सही है या नहीं.

    3.जहाँ ladder का प्रयोग किया जा रहा है वहाँ ground की condition क्या है.

    4.Ladder का प्रयोग कहीं ऐसे जगह तो नहीं किया जा रहा है जहाँ ऊपर से high tension voltage गया है. ऐसे स्थान पर इसका प्रयोग प्रतिबंधित होता है. अगर वहाँ कार्य अनिवार्य है तो पहले electrical department में application देकर उस area का light cut करा देते हैं फिर उसके बाद कार्य हो शुरू करते हैं.

    5.Ladder का प्रयोग करने से पहले उसके condition को जाँच लेते हैं,  और सही होने की स्थिति में उसका प्रयोग करते हैं.

    6.TBT के दौरान यह भी बतायें कि ladder में जो inspection tag लगा हुआ है कहीं ऐसा तो नहीं उसका due date खत्म हो गया है. ऐसा होने पर अपने site supervisor को बतायें और competent person के द्वारा inspection कर पुनः tag लगवाएँ.

    7.यह भी उन्हे बताएं कि scaffolding के platform पर ladder रख कर काम करना प्रतिबंधित होता है.

    उपर्युक सभी बिदुओं को ladder tool box talk के दौरान बताना चाहिए.

     

    “Ladder hazards and Precaution से संबन्धित अगर यह पोस्ट आप को अच्छा लगे तो कमेंट देना और इसे share करना न भूलें”

    इसे भी जाने-