July 27, 2021
Safety Awareness Uncategorized

Safety Awareness Program या सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम

किसी भी company में safety के level को high करने के लिए Safety Awareness Program  को organize करना या इसका बढ़ावा देना हमेशा से beneficial रहा है.इसका समय-समय पर organize करने से employee के अंदर safety को लेकर जागरूकता आती है, जिसके कारण कार्य स्थल पर company के अंदर सभी employee safety procedure को follow  करने के प्रति समर्पित नज़र आते हैं.

इसलिए ज़रूरी है की हमेशा safety awareness program  को organize किया है और उन सभी  employees को पुरस्कृत किया जाये जिससे कभी भी company के safety policy को ignore कर  काम को प्राथमिकता नहीं देते हैं.

Safety awareness program  में हम कुछ ऐसे बिन्दुओं पर चर्चा करते हैं जिससे तब कहीं जाकर workers safety को follow करने के लिए समरपर्ण दिखता है.

तो आइये उन points को समझते हैं और safety awareness program  में उन बिन्दुओं पर चर्चा कर workers को safety के प्रति जागरूक करते हैं-

1.Accident क्या है?

Company के अंदर जब workers safety procedure को follow नहीं करते हैं या काम के दौरान जिस सुरक्षा को अनुसरण करने के लिए कहा जाता है वह नहीं करते हैं तो दुर्घटना होती हैं. अब पहले दुर्घटना के परिभाषा को समझते हैं फिर आगे बढ़ते हैं. Accident का definition कहता है-

“Accident एक unplanned या unexpected ( जिसकी संभावना नहीं किया गया हो) event (घटना) है.जिसमे तन, धन के नुकसान होने या न नुकसान होने की पूरी संभावना होती है, तथा व्यक्ति को इस अनहोनी घटना से मृत्यु के पूर्ण संभावना बनती है accident कहलाता है”.

Safety Awareness Program  में accident को समझाने के लिए उनके आस-पास हुयी दुर्घटना/घटना के विवरण सुनते हैं.जिसके कारण उन्हे accident को समझने में ज्यादा समस्या नहीं होती है और उसे भली-भांति समझ लेते हैं .

2.Accident क्यों घटित होती है (Why did accident occur)-

किसी भी तरह का accident होता है तो उसके पीछे कोई न कोई कारण होता है ऐसे में जब हम उस कारण का पीटीए कर लेते हैं तो पुनः उस घटना की पुनरावृत्ति न हो उसके लिए कायदे-कानून बनाते हैं और उसे लागु करते हैं.

ऐसे में जब हम safety awareness program  को company के उन सभी employees के सामने जो-जो  घटना घटित हुयी रहती है उसका विवरण सुनाते हौं और workers के सामने दुर्घटना क्यों घटित हुयी थी इसके बारे में बताते हैं जिससे सीख लेते हुये workers पुनः दुबारा दुर्घटना न हो. इसके लिए वह प्रयासरत हो जाता है. क्योंकि दुर्घटना होने की स्थिति में सबसे पहले उसके जान-माल की क्षति पहुँचने की संभावना रहती है.

3.Safety के प्रति कौन जिम्मेदार है-(Who is responsible for Safety)

Company में सुरक्षा के प्रति कौन व्यक्ति जिम्मेदार होता है.यह company के प्रत्येक employee को जानना ज़रूरी होता है,क्योकि safety का अनुसरण करना प्रत्येक व्यक्ति की ज़िम्मेदारी है. इसलिए जब safety awareness program हो रहा हो तो ऐसे में हमें उस सभी व्यक्तियों को company के अंदर सुरक्षा से संबंध रखने वाले व्यक्ति से introduce क्र देना चाहिए.

इसका सबसे बड़ा benefit यह होता है कि अगर किसी employee को safety से संबन्धित अगर किसी भी प्रकार का issue हो तो वह उस व्यक्ति से तुरंत कह सकेऔर उसका समाधान किया जा सके.जिससे किसी भी प्रकार के अनहोनी से आसानी से बचा जा सके.

4.Safety Policies-

हर company कि अपनी safety policy होती है. यह work area में होने वाले कार्य और उससे संबन्धित होने वाले खतरे पर निर्भर करता है. Company में जितने भी employee काम कर रहे हैं उन सभी को company के safety policy के बारे में जानना आवश्यक होता है . सच तो यह है कि अगर employee अपने ही company के अंदर safety policy को नहीं जनता है तो फिर वह safety पprocedure को क्या follow  करेगा.

इसलिए company चाहे जितना भी experience person को क्यों न hire करती हैं, सभी तो safety induction के दौरान company के अंदर safety policy को समझती है कि करने के दौरान वह safety को ignore न करे और उस सभी सुरक्षा के नियमो को फॉलो करे जो company  के द्वारा कहा गया है.

इसे भी पढ़ना न भूलें-

What is Mock Drill? II माक ड्रिल क्या है?

Hierarchy of Hazards and Risk Control

5.Reorganization, Evaluation and Control Hazards-

Company के अंदर जितने भी कार्य होते हैं उन कार्यों से जुड़ा कोई न कोई संबन्धित खतरा होता है ऐसे में जब हम company के अंदर safety awareness program को organize करते हैं तो ऐसे में जो संभावित खतरे नज़र आते हैं उसका पहचान, उसका मूल्यांकन और उससे संबन्धित जो control hazards होता है उसके बारे में इस program में discuss करते हैं.

अगर हम ऐसा नहीं करते हैं तो बहुत कम संभावना बचती है कि हम खतरों को रोक सके. क्योंकि किसी भी कार्य के दौरान खतरो की पहचान और उससे निपटने का तरीका कम से कम पता होना ही चाहिए.

6.काम करने का सही ढंग(Safe work Procedure)-

आप चाहे जो भी काम कर रहे हों प्रत्येक काम करने का safe procedure होता है.इसलिए हर एक काम के safe procedure के बारे में safety awareness program में चर्चा करें.कोई एक व्यक्ति हर एक काम में master नहीं हो सकता इसलिए जो प्रत्येक काम का specialist है उसे उन काम के safe procedure के बारे में बताने का मौका दें. जिससे company के अंदर risk के level को कम किया जा सके और दुर्घटना/घटना से बचा जा सके.

7.Manual Handling-

Manual Handling की सबसे पहले परिभाषा को जानते हैं, “किसी भी material को एक जगह से दूसरी जगह man power के द्वारा shift करने का जो procedure होता है वो manual handling कहलाता है .

इस manual handling के definition से आप समझ ही गए हो कि manual handling किसी कहते हैं. ऐसे में manual handling करते समय ज्याद से ज्यादा दुर्घटना कि संभावना रहती है.इसके बारे में विस्तृत रूप से post में लिखा गया है और उसका link यहाँ उपलब्ध करा रहे हैंजिसके माध्यम से आप उसे समझ सकें.

Safety awareness program में manual handlingसे होने वाले संभावित खतरे और उससे संबन्धित precaution के बारे में ज़रूर चर्चा करें क्योंकि अकसर देखा गया है manual handling के दौरान safety को ignore किया गया है और दुर्घटना का सामना करना पड़ा है.

इसलिए manual handling  के hazards और उससे संबन्धित precaution के बारे में विस्तृत रूप से program  में चर्चा करना न भूलें.जिससे manual handling के दौरान होने वाले खतरों से आसानी से बचा जा सके.

8.Good Housekeeping Practice –

किसी भी company के अंदर housekeeping पहली प्राथमिकता होती है. Company के अंदर किसी भी area में proper housekeeping नहीं होता है तो उससे संबधित होने वाले hazards के बारे में विस्तृत रूप से बताना अनिवार्य होता है, जिससे कि company के अंदर employee housekeeping को पहली प्राथमिकता दे.

जब safety awareness program हो रहा तो तो वहाँ company के अंदर जितने भी proper  housekeeping  के कारण दुर्घटना हुयी है उसके बारे में वहाँ पर चर्चा करे तथा जो जान माल कि क्षति हुयी उसके बारे में बताना न भूलें. जिससे company के अन्य employee उस दुर्घटना से सीख ले सके और future में उस तरह की कोई दुर्घटना न हो इसके लिए प्रण कर सके.

9.Use of tools and equipment-

कोई कीcompany अपने workers को दुर्घटना से बचाने के लिए proper tools का supply करता है. लेकिन अक्सर यह देखते हुये पाया जाता है की employee के पास tools होते हुये भी वह बिना tools का काम करता है और दुर्घटना को दावत देता है.

ऐसे मे awareness program  में tools tackles और equipment के फायदे के बारे में बताने में किसी भी प्रकार का कसर न छोड़ें.जिससे worker बिना tools और equipment के काम के बारे में न सोचें.

10.General Safety Requirements-

सभी कंपनी के अंदर कुछ general safety requirements होता है जिसे प्रत्येक व्यक्ति को फॉलो करना पड़ता है.उन सभी general safety के बारे में चर्चा करें और बताएं.जैसे कंपनी के अंदर कुछ mandatory PPE होता है जिसे प्रत्येक employee को पहनना होता हाओ अगर वह site visit करने का प्लान बनाता हो या ऐसे स्थान पर जा रहा हो जहां खतरे की संभावना हो तो ऐसे व्यक्ति को general safety requirements का अनुसरण करना पड़ता है.  

“Agar yah post aap ko achchaa lage to share karna n bhulen” 

इसे भी पढ़ना न भूलें-

Safety Officer बनने के लिए क्या Qualification चाहिए?

ADIS(Advance Diploma in Industrial Safety) Scope in Hindi

MSDS (Material Safety Data Sheet) Meaning Certificate Full Form Format in Hindi-

Related posts

HSE (Health Safety Environment) Plan in Hindi

Wajid Ali

Lighting System at Construction Site or Light System

Wajid Ali

Pneumatic Tools Safety in Hindi

Wajid Ali

Leave a Comment