July 27, 2021
Hazards and Precaution Safety Awareness Uncategorized

Safety Officer की Qualification Duty और Salary

Safety Officer Carrier,Qualification, Duty and Salary-

         Safety Officer Tool Box Talk (TBT)

इस post मेँ safety officer की carrier, qualification,duty और salary के बारे मेँ विस्तृत रूप से चर्चा किया गया है.Safety officer एक पोस्ट होता है, जिस पर कार्य करने के लिए Safety Engineering से संबन्धित course करने की आवश्यकता होती है.

Safety Engineering में बहुत सारे trade हैं, और यह आप के interestके ऊपर निर्भर करता है कि, आप कौन से trade से safety engineering करना चाहते हैं. 

इनकी duty और salary कई बार course के ऊपर निर्भर करती है या experience इस क्षेत्र में अत्यधिक मायने रखता है. 

वैसे तो वर्तमान समय में industrial safety की सबसे ज्यादा माँग है. जिसे करने के बाद से students आसानी से किसी भी company में, safety officer के पद के लिए eligible हो जाता है.

Safety officer का जो post होता है वह experience के ऊपर निर्भर करता है.कोई Fresher student इसके लिए eligible नहीं होता है. इसके लिए 2 से 3 साल या 3 से 4 साल तक का experience लेना होता है.

अगर आप fresher हैं तो आप को safety supervisorसे अपना career शुरू करना होता है, और experience के बाद से आप safety officer के post के लिए eligible  हो जाते हैं.

यह पद पूरी तरह आप के सीखने के ऊपर निर्भर करता है.अगर आप जितना जल्दी सीखते हैं उतना की जल्दी आप इस पोस्ट के लिए योग्य हो जाते हैं.

Safety Officer Course Fee –

इस कोर्स को करने के लिए जो fees होता है वह institution /university के ऊपर निर्भर करता है.जो संस्था आप को quality देगी वहाँ fees आप को ज्यादा pay करना होगा.

कम या ज्यादा fees देखकर किसी भी institution में admission न लें. बल्कि उस संस्था के बारे में utilities feed back पहले ज़रूर लें.

वैसे आप को बता दूँ कि एक साल के Safety Engineering  course के लिए आप को Average 30k  to  60k pay करना पड़ सकता है.

2 साल या 3 साल course के लिए आप को और अधिक fees देना पड़ सकता है.University के बात करें तो, campus के अंदर आप को कम और उससे affiliated  संस्थान में, आप को ज्यादा fees देना पड़ सकता है.

Safety officers Salary in India –

अगर आप safety से संबन्धित कोई भी degree ली है तो fresher होने के कारण आप की salary आप के expectation के अनुसार जरूर कम मिल सकती है. लेकिन इस field में आप जितना तेजी से grow  करेगे, शायद ही कोई ऐसा क्षेत्र हो जिसमे में 1 या 2 सालों में growth कर पाएंगे.

इसलिए शुरुआती समय में, अगर आप को कम salary मिल रही है तो हतोत्साहित न हों.बस experience gain करने के बारे में सोचें, और जितना जितना हो सके आप सीखने और paper work करने की कोशिश करें.

अगर आप अपना career as a “Safety Supervisor “ से शुरू कर रहें हैं, तो आप की शुरुआती salary 10k to 15k हो सकती है. लेकिन जैसे-जैसे experience बढ़ेगा आप की salary तेजी से आगे बढ़ती जाएगी, और company के तरफ से मिलने वाली सुविधाएं भी.

Safety officer के Salary की बात करें तो India में लगभग Safety Officer को minimum  35k से 45k के बीच मिलती है.

बहुत से कंपनी के अंदर इससे high salary भी pay करते हैं और सुविधाएं भी अधिक दी जाती हैं.NEOSH IGC  के Case में Salary और ज्यादा हो सकती है.

Safety Officer Salary in Foreign –

अगर यही Safety Officer विदशों में जॉब करता है तो उसकी salary लाख से ऊपर ही होती है. बहुत सी कंपनी तो hours पर salary देते हैं ,पर उसके लिए उसको qualification बढ़ाने की भी ज़रूरत पड़ेगी.

बहुत सी कम कंपनी होती है जो One Year Diploma से काम चला लेती हैं लेकिन Experience के case में और यह बहुत कम कंपनी में देखने को मिलता है.

विदेश जाने के लिए आप के पास NEBOSH IGC का होना ज़रूरी होता है.अब तो लगभग प्रत्येक company ने यह अनिवार्य कर दिया है. अगर NEBOSH  IGC  नहीं तो कम से कम NEBOSH  HSW या IOSH का होना जरूरी होता है.

विदिशों में Safety Assistant के job के लिए अच्छी सैलरी देते हैं, और लगभग 50k से ऊपर ही होता है. परंतु यह knowledge के ऊपर निर्भर करता है.इसलिए interview में जाने से पहले पूर्ण रूप से जानकारी अर्जित कर लें.

Safety Officer Qualification-

Safety officer बनने के लिए विशेष qualification की आवश्यकता नहीं पड़ती है.यह पूरी तरह से experience के ऊपर निर्भर करता है. अगर आप ने 1 Year, 2 Year या 3 Year का कोई भी course किया हैं तो आप इसके लिए eligible हो सकते हैं.

बस Safety Officer के post तक पहुँचने के लिए आप को, experience के साथ इस क्षेत्र के बारे में deeply knowledge की ज़रूरत पड़ती है,और यह गहन जानकारी आप को आसनी से इस पद तक पहुँचा सकता है.

Safety Officer Job –

Safety Officer का job आप को Construction ,Refinery, Chemical Plant, Running  Plant और Gas Plant आदि में आसानी से मिल सकता है.

Safety Officer Roles and Responsibilities-

1.Safety Officer की ज़िम्मेदारी होती है कि वह Company के अंदर OHS (Occupational Health and Safety ) policy को बनाए और company के अंदर सभी employee के लिए लागू करे.

2.वह समय-समय पर company के अंदर जितने भी employee काम कर रहे हैं उन्हे सुरक्षा से संबन्धित सलाह दे और उन्हे किसी भी कार्य को सुरक्षित ढंग से करने के लिए निर्देशित करे.

3.Safety Officer के अंदर safety से संबन्धित संकटपूर्ण(critical) मुद्दे पर सोचने की capacity हो और उसे solve करने की क्षमता भी ठीक ढंग से आता हो.

4.Safety management system के काम के बारे में safety officer अधिक से अधिक जानकारी रखता हो.

5.Safety Officer की responsibility होती है कि वह work site पर hazards को monitor करे और उसे दूर करने के तरीके ढूँढने के पश्चात ही किसी काम को करने की अनुमति दे.

6.Company के अंदर काम करने वाले employees की safety measure को सुनिश्चित करने लिए उपाय ढूँढे.

7.Safety officer की ज़िम्मेदारी होती है कि वह कंपनी के अंदर काम कर रहे employees में safety awareness लाये और company के अंदर safety को लेकर ऐसा माहौल बनाए कि प्रत्येक व्यक्ति safety को follow करने के लिए बाधे रहे.

8.वह हर रोज site visit करे,hazards को भाँपे और उससे संबन्धित precaution दे और hazards free environment बनाए.

9.उस area में स्वतः जाये जहाँ accident हुआ हो और उस दुर्घटना का root causes पता करे और भविष्य में पुनः वह दुर्घटना repeat न हो इसके लिए plan तैयार करे और उसे implement करे.

10.Work site पर उपलब्ध supervisor की सहायता से safe practice job को promote करे.

11.Company के अंदर अगर भी प्रकार के safety policy में परिवर्तन हुआ हो तो बिना विलंब किए उसे लागू करे और जितना जल्दी हो सके उस policy को विश्वास में लाये.

12.वह company के अंदर किसी भी तरह के accident investigation को conduct करे. वह near miss क्यों न हो.

13.Company के अंदर किसी भी प्रकार की दुर्घटना हो खास कर major accident तो वह concern authority(संबन्धित प्राधिकारी) को इसके बारे में ज़रूरinform करे.

14.उसकी प्राथमिकता यह होती है कि वह job hazard को analysis करे.

15.Safety officer की ज़िम्मेदारी होती है कि वह Risk Assessment को conduct करें और संबन्धित खतरों के अनुसार preventive measure लागू करे.

16.Company के अंदर हो रहे installation और maintenance को देखे और वहाँ जितने भी unwanted या disposal material हो उसे वहाँ से हटवाए.जिससे की होने वाले tripping hazards से employee को आसानी से बचाया जा सके.

17.उसकी ज़िम्मेदारी होती है कि वह PTW (Permit to Work )को देखे और उसकी समीक्षा करे और उसका review करना न भूले जिससे की गड़बड़ी होने के case में उसे सुधार लाया जा सके.

18.जितने भी company में portable electrical equipment होते हैं उस पर लगे sticker को देखे और यह जाँचे की वह competent person के द्वारा inspect किया गया है या नहीं.

19.Work site पर जितने भी emergency management system होते हैं उसे समीक्षा करे,और कमी होने पर authority person को inform करे.

20.जितने भी site पर accident के reports आ रहे हैं उसे देखे और जहाँ extra training की ज़रूरत हो वहाँ workers को उपलब्ध कराये.

21.कंपनी के अंदर कोई भी material रखा हो तो proper storage को identify करें और अगर कहीं warning symbols की जरूरत हो तो उसे वहाँ लगवाए.

22.Company के अंदर या बाहर अगर road construction चल रहा हो तो वहाँ traffic management को देखे और सुनिश्चित हो ले कि जो traffic management किया गया है वह सही है या नहीं.

Know About-

Online Free Safety Courses in Hindi

Hazard Identification and Risk Assessment(HIRA) in Hindi । संभावित खतरों की पहचान और उसका Risk Assessment.

Responsibilities of a Safety Officer during the Work at Height

Tool Box Talk II TBT

Safety officer क्यों बनें ?

अगर या Post आप को अच्छा लगे तो इसे share करना न भूलें और जिसे safety officer को मदद मिले और अपनी responsibilities को जान सकें.

Related posts

H2S Gas के Properties, Effects,Hazards और Precautions.

Wajid Ali

Vehicle Entry Permit and control measure before entry

Wajid Ali

Web Sling or WLL Color Code in Hindi

Wajid Ali

2 comments

Anil Kumar Yadav July 8, 2021 at 3:59 am

सर,कोर्स की जान कारी,दे,कोर्स की फिस, और,समय, पता दे,फायर के,बारे मे

Reply

Leave a Comment